• shareIcon

फेफड़ों के लार्ज सेल कैंसर का पूर्वानुमान

कैंसर By Anubha Tripathi , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग / Dec 24, 2009
फेफड़ों के लार्ज सेल कैंसर का पूर्वानुमान

फेफड़ों के लार्ज सेल कैंसर का पूर्वानुमान: फेफड़ों के लार्ज सेल कैंसर का पूर्वानुमान कैसे किया जा सकता है जानें।

large cell cancer of the lung ka purvanuman

लार्ज सेल कार्सिनोमा का पता आमतौर से बीमारी फैल जाने के बाद ही संभव हो पाता है। लार्ज सेल कार्सिनोमा और दूसरे नॉन-स्मॉल सेल लंग कैंसरों के लिए पूर्वानुमान काफी निराशाजनक हैं, जिनके लिए 5 वर्षों के लिए बचने की दर (सर्वाइवल रेट) लगभग 16 प्रतिशत है। कैंसर का जल्दी‍ पता लग जाने और उपचार हो जाने पर सर्वाइवल रेट काफी अधिक (लगभग 50 प्रतिशत) हो जाता है। प्रथम स्तर वाले मरीजों के लिए सर्जरी के बाद 5 वर्षों के लिए सर्वाइवल रेट लगभग 47 प्रतिशत है। तीसरे स्तर के मरीजों के लिए पांच वर्षों के लिए सर्वाइवल रेट लगभग 8 प्रतिशत है।


सर्जरी और दूसरे शुरूआती उपचार काफी सफल दिखने के बाद भी कैंसर के फिर से पनप जाने का जोखिम ऊंचा रहता है। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि लार्ज सेल कार्सिनोमा और दूसरे नॉन-स्मॉल सेल लंग कैंसर तुरंत ही शरीर के दूसरे अंगों में फैलते हैं।


लंग कैंसर के फैलने की कार्यप्रणाली को लेकर हाल ही में कुछ खासी उत्साहवर्धक वैज्ञानिक खोजें हुई हैं जिनसे निकट भविष्य में बेहतर पूर्वानुमानों की आशा जगी है। वैज्ञानिक अब उन विशेष 'संकेतों' को समझने में सक्षम हुए हैं जो लंग कैंसर कोशिका प्राप्ती करके बढ़ती है। इन संकेतों को समझने के बाद अब कुछ नई प्रकार की दवाएं तैयार की जा रही है जो इन संकेतों में बाधा डाल सकती हैं या इन्हें  उदासीन (न्यूट्रलाइज़्ड) कर सकेंगी। इस तरह कोशिकाओं को बढ़ोत्तरी हेतु उकसाने वाले संकेतों और निर्देशों को अब रोका जा सकेगा ।


हालांकि लंग कैंसर के मरीजों के उपचार परिणाम कुल मिलाकर काफी निराशाजनक हैं लेकिन कैंसर बॉयोलाजी की समझ उन्नत होने के साथ आने वाले वर्षों में बेहतर बदलावों की उम्मीद है। तब तक के लिए लंग कैंसर की संभावना रोकने के लिए एकमात्र सबसे बढ़िया उपाय यही है कि कभी भी धूम्रपान न करें और यदि करते हों तो तुरंत बंद कर दें।

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK