पीठ दर्द के लिए मुद्रा

पीठ दर्द के लिए मुद्रा

दाएँ हाथ और बाएँ हाथ के लिए अलग अलग मुद्राएं हैं, जिन्हें एक दूसरे के साथ संयोजन में करना चाहिए !

विधि

  • आपके दाहिने हाथ के अंगूठे, मध्यमा (मिडल फिंगर), कनिष्ठिका (लिटल फिंगर) को आपस में एक दूसरे से कोमलता से छूने दीजिए, जब कि तर्जनी (इंडेक्स फिंगर) और अनामिका (रिंग फिंगर) को फैला दीजिए !
  • अब आपके बाएँ हाथ के अंगूठे के जोड़ को बाएँ हाथ की तर्जनी के नाख़ून पर रख दीजिए !   
  • इस आसन को एक दिन में चार मिनट के लिए चार बार कीजिए !

 

 

 
Disclaimer:

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।