• shareIcon

तलाक

डेटिंग टिप्स By सम्‍पादकीय विभाग , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग / Jan 01, 2013
तलाक

किसी सम्बन्ध को समाप्त करने का फैसला करना न केवल बेहद कठिन है बल्कि चिन्ताएं, व्या‍कुलता, अलग होने का अहसास और पछतावा आदि अनेकों भावनाओं के अहसास इससे जुड़े हैं। वैवाहिक जीवन का अंत करना न केवल इसलिए कठिन होता है कि कानूनी कार्यवाहियां आपकी सारी ऊर्जा सोख लेती हैं बल्कि इस मामले से निबटना और भी जटिल होता है यदि अतिरिक्तक पहलू के रूप में बच्चों  पर भी विचार करना पड़े। एक दूसरे के प्रति अनुभूतियों और नजरिए में बदलाव दिल को काफी झकझोरने वाला होता है लेकिन किसी सम्बन्ध को समाप्तद करने के मामले से बहुत सुंदरतापूर्वक निबटे जाने की ज़रूरत होती है।

 

अपने पार्टनर (साथी) से चर्चा करें

 

किसी सम्बन्ध को समाप्ता करना पारस्प रिक निर्णय होना चाहिए और आपस में मिलबैठकर बात कर लेनी चाहिए ताकि किसी प्रकार की गहतफहमी न रहे। हो सकता है कि दोनों के बीच संवाद का तार टूट चुका हो लेकिन फिर भी कुछ महत्व पूर्ण मसलों पर चर्चा करना फिर भी ज़रूरी है। यह विचार-विमर्श शांतिपूर्वक और निर्णायक रूप में करें।

 

दोषारोपण से बचें

 

इस बारे में कोई फैसला देने से बचें कि किसकी गलती ने सम्बन्ध को खराब कर दिया। चाहे आपको लगता हो कि पूरी तरह से यह सामने वाले की गलती से ही हुआ है लेकिन अपनी इस राय को जाहिर न करें। सम्बन्ध का समापन किसी दोषारोपण के साथ नहीं होना चाहिए क्योंरकि इसमें दोनों की ही कुछ न कुछ भूमिका रही हो सकती है।

 

असमंजस से बचें

 

सम्बन्ध खत्म  करने का फैसला कर लेने पर इस विचार पर टिक जाना चाहिए। कोई खुले विकल्प  वाला सम्बन्ध या सम्बन्ध को बरकरार रखने की उम्मीिद कायम रखना नासमझी है। अपने निर्णय पर मज़बूती से अडिग रहें। सम्बन्ध समाप्त करने के लिए खुद को मानसिक दृढ़ बनाएं।

 

यदि आप शादीशुदा हैं और तलाक चाहते हैं तो, यदि आपके बच्चेक हों, उन्हेंप अपने फैसले की जानकारी ज़रूर दें कि क्याआ बदलाव होने वाला है। बच्चेत संवेदनशील होते हैं और बड़ों के मामलों को गहराई से नहीं समझ सकते लेकिन उनको मोटे तौर पर बताना ज़रूरी है कि क्यात होने जा रहा है।

 

वित्तीय मामलों और बच्चों  के संरक्षण आदि मसलों को हल करने के लिए किसी अटार्नी से सलाह लें।
अलग रह रहे अपने साथी से औपचारिक सम्बन्ध कायम रखें। आपका दृष्टिकोण न तो शत्रुतापूर्ण होना चाहिए न ही दोस्ता ना।

 

नई शुरूआत करें

 

अपने अतीत की सभी पुरानी गलतियों खामियों को भुलाते हुए जीवन की नई शुरूआत करें। भविष्य और नए सम्बन्धों की संभावना के प्रति सकारात्मक नजरिया अपनाएं।

 

 

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK