सिर्फ आराम और नींद में कमी ही नहीं माइलिन भी बनाता है उम्रदराज

Updated at: Sep 13, 2013
सिर्फ आराम और नींद में कमी ही नहीं माइलिन भी बनाता है उम्रदराज

युवा दिखने की लल‍क हर किसी में होती है। हाल में हुए शोध के मुताबिक माइलिन में होने वाली कमी से इंसान अधेड़ावस्था में उम्रदराज दिखने लगता है।

 अन्‍य
लेटेस्टWritten by: अन्‍य Published at: Sep 02, 2011

उम्रदराज दिखने के कारण का पता चलावाशिंगटन, आईएएनएस : हमेशा युवा दिखने की चाहत किसे नहीं होगी भला। कई बार अधेड़ उम्र में भी लोग अधिक उम्र के दिखने लगते हैं। वैज्ञानिकों ने इसकी वजह का पता लगा लिया है। हाल ही में हुए एक शोध के मुताबिक माइलिन में होने वाली कमी से इंसान अधेड़ावस्था में उम्रदराज दिखने लगता है।

 

माइलिन एक ऐसा श्वेत पदार्थ होता है जो तंत्रिका कोशिकाओं को अपने आवरण से ढका रहता है। लास एंजिलिस यूनिवर्सिटी के प्रो. जार्ज बर्ट्जोकिस और उनकी टीम ने शोध में 23 से 80 साल के लोगों पर शामिल किया और उनके माइलिन के स्तर की जांच की। शोधकर्ताओं ने विभिन्न उम्र वर्ग के लोगों के बीच काम करने की गति व माइलिन के बनने की दर में अंतर पाया। गौरतलब है कि उम्र की मध्यावस्था के बाद जहां मानसिक क्रियाशीलता बढ़ जाती है वहीं मस्तिष्क में माइलिन बनने की दर घट जाती है।

 

शोधकर्ताओं के मुताबिक उम्र के इस दौर में व्यक्ति की कार्यक्षमता चरम पर होती है। लेकिन इसी समय माइलिन के बनने में कमी हो जाना एक तरह से यू-टर्न साबित हो सकता है। प्रो. बटर्जोकिस के अनुसार उम्रदराज दिखने के लिए 'माइलिन ब्रेकडाउन' महत्वपूर्ण कारण साबित होता है। उम्र बढ़ने के साथ यह प्रक्रिया जारी रहती है। 72 लोगों के किए गए एमआरआई (मैग्नेटिक रेजोनेंस इमेजिंग) में मस्तिष्क के फ्रंटल लोब में माइलिन का स्तर का कम पाया गया। इसके कारण उनकी अंगुलियां चलाने की गति (फिंगर टैपिंग स्पीड) 10 सेकेंड से ज्यादा पाई गई।

 

 

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK