• shareIcon

अब ब्लड कैंसर नहीं रहेगी लाइलाज बीमारी

कैंसर By अनुराधा गोयल , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग / Mar 29, 2012
अब ब्लड कैंसर नहीं रहेगी लाइलाज बीमारी

ब्लड कैंसर के चार मुख्य प्रकार होते हैं जिससे ब्लड कैंसर का निदान संभव है।

Ab blood cancer nahi rahegi lailaj bimariब्लड कैंसर यानी रक्त कैंसर जो कैंसर का ही एक रूप है। ब्लड कैंसर बोन मेरो यानी हड्डियों के केंद्रीय भाग को बहुत प्रभावित करता है। ब्लड कैंसर में रक्त कोशिकाओं का असामान्य उत्पादन होने लगता है। ब्‍लड कैंसर के 90 फीसदी मामलें व्यस्कों में पाया जाता है और 10 फीसदी ब्ल्ड कैंसर बच्चों में पाया जाता है। लोगों में भ्रम है कि ब्लड कैंसर का इलाज संभव नहीं। जबकि ऐसा नहीं है। ब्लड कैंसर के निदान के बाद इसका आसानी से निदान संभव है लेकिन इसके लिए है ब्लड कैंसर के प्रकार के बारे में पता होना चाहिए। यानी ब्लड कैंसर का इलाज ब्लड कैंसर किस प्रकार का है इस पर निर्भर करता है। दरअसल, ब्लड कैंसर के चार मुख्य प्रकार होते हैं जिससे ब्लड कैंसर का निदान संभव है।



ब्लड कैंसर के प्रकार

  • एक्यूट लिंफोब्लास्टिक ल्यूकेमिया - Acute Lymphoblastic Leukemia (ALL)
  • क्रोनिक लिम्फोसिटिक ल्यूकेमिया - Chronic Lymphocytic Leukemia (CLL)
  • एक्यूट माइलोजेनस ल्यूकेमिया - Acute Myelogenous Leukemia (AML)
  • क्रोनिक माइलोजेनस ल्यूकेमिया- Chronic Myelogenous Leukemia (CML)



इन चार कारकों के आधार पर ही ब्लड कैंसर का इलाज किया जाता है।




क्या कहते हैं शोध

  • हाल ही में आए शोधों के अनुसार, ब्लड कैंसर का इलाज अब आसानी से किया जा सकता है। शोध के मुताबिक, ल्यूकेमिया( ब्लड कैंसर का प्रकार) से शरीर कैसे लड़ सकता है इस बात की खोज की गई है। यानी ब्लड कैंसर जिससे जान का जोखिम भी बना रहता है के उपचार के लिए अधिक बेहतर विकल्प खोज लिए गए हैं।
  • रिसर्च के मुताबिक, मानव शरीर में पाई जानी वाली सफेद रक्त कोशिकाएं यानी व्हा‍इट ब्लड सेल्स पर पाए जाने वाले प्रोटीन सीडी19-लिगेंड (सीडी19-एल) का पता लगाया गया है।
  • इस प्रोटीन के जरिए ना सिर्फ शरीर की प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाया जा सकता है बल्कि ल्यूकेमिया से प्रभावित कोशिकाओं को नष्ट करने में भी कारगर है।
  • शोधों में इस बात का भी पता लगाया गया कि बी-लाइनेज एक्यूट लिंफोब्लास्टिक ल्यूकेमिया ( Acute Lymphoblastic Leukemia (ALL)) नामक ब्लड कैंसर बच्चों  और युवाओं में होने वाला कैंसर है।




क्या आप जानते हैं

  • जिन लोगों में ब्लड कैंसर के सेल्स पाए जाते हैं उनको ब्लड कैंसर सेल्स बढ़ने पर कीमोथेरेपी तक की जाती है लेकिन ऐसे लोगों की प्रतिरोधक क्षमता कमज़ोर होने या फिर सही से देखभाल ना करने के कारण दोबारा ब्लड कैंसर का खतरा बढ़ जाता है।
  • जिन लोगों को दोबारा ब्लड कैंसर हो जाता है उनके जीने की संभावना बहुत कम बचती है।
  • दरअसल, ब्लड कैंसर का इलाज तभी संभव है जब स्वस्थ कोशिकाओं को कोई नुकसान ना पहुंचे और ल्यूकेमिया से प्रभावित सभी कोशिकाएं भी नष्ट हो जाएं। और ऐसा कीमोथेरपी से होना संभव नहीं है।
  • ब्लड कैंसर पर चल रहे तमाम शोधों के दौरान ही लाइलाज बीमारी कैंसर के कारणों को तो खोजा गया ही है साथ ही इसका इलाज क्या है और ब्लड कैंसर से मौत के जोखिम को कैसे कम किया जा सकता है आदि के बारे में खोज की गई है।
  • हर साल लगभग 75 लाख लोगों की मौत का कारण ब्लड कैंसर है लेकिन अब ऐसा नहीं होगा। वैज्ञानिकों द्वारा किए जा रहे ब्लड कैंसर पर कई शोध सफल भी हुए हैं।
  • ब्लड कैंसर के इलाज के लिए कुछ दवाएं भी इजाद की जा रही हैं।

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK