इन 4 टिप्‍स से शिक्षक खुद को रखें फिट

Sep 05, 2017

Quick Bites:
  • हर शिक्षक काफी मेहनत करने के बाद अपने शिष्‍य को किसी मुकाम तक पहुचाता है
  • ऐसे में शिक्षक को भी अपनी सेहत का ध्‍यान रखना चाहिए।
  • हम शिक्षकों को कुछ ऐसे टिप्‍स बता रहे हैं जो उनके लिए बहुत जरूरी है।

ये हम सब जानते हैं कि एक गुरू के बिना किसी भी लक्ष्य तक पहुंच पाना संभव नहीं है। गुरु ही आपको जिंदगी जीने का तरीका और उसमें आने वाली मुश्किलों से लड़ने के बारे में बताता है। यही वजह है कि सैकड़ों साल पहले की कई कहानियां ऐसी हैं जिनमें गुरु और शिष्य के रिश्ते को बड़ी ही खूबसूरती से बयां किया गया है। सबसे बड़ा उदारहरण इकलव्य का है जिसने अपने गुरु द्रोणाचार्य को अपना अंगूठा गुरु दक्षिणा के तौर पर दे दिया था। यही वजह है कि भगवान से पहले गुरु का नाम लिया जाता है। हर शिक्षक काफी मेहनत करने के बाद अपने शिष्‍य को किसी मुकाम तक पहुचाता है। ऐसे में शिक्षक को भी अपनी सेहत का ध्‍यान रखना चाहिए। आज हम शिक्षकों को कुछ ऐसे टिप्‍स बता रहे हैं जो उनके लिए बहुत जरूरी है।

आवाज का रखें ख्‍याल

स्‍कूल और कॉलेज में शिक्षकों को अक्‍सर जोर-जोर से पढ़ाना पड़ता है, इससे उनकी आवाज प्रभावित होती है। ऐसे में शिक्षकों को चाहिए कि वह ज्‍यादा तेज आवाज में न बोलें। चिल्‍लाने से अगर गले में किसी तरह की समस्‍या होती है तो शहद या अदरक की चाय का सेवन कर सकते हैं।

बॉडी पोश्‍चर को रखें ठीक

अक्‍सर क्‍लासरूप में टीचर को लगातार बैठे रहना पड़ना जिससे बॉडी पॉश्‍चर प्रभावित होती है। बॉडी पॉश्‍चर ठीक रहे इसलिए थोड़ी-थोड़ी देर चलना फिरना चाहिए। लगातार एक जगह बैठे रहने से बचें।

खानपान हो सही

ऐसा नहीं है कि सिर्फ शारीरिक मेहनत से ही एनर्जी खर्च होती है, बोलने में भी काफी उर्जा खपत होती है। ऐसे में शिक्षकों अपना खानपान सही बनाए रखना चाहिए।


प्रतिदिन करें एक्‍सरसाइज

हर शिक्षक को प्रतिदिन एक्‍सरसाइज़ करना चाहिए इसके साथ ही योग भी जरूरी है। रोजाना ऐसा करने से तन और मन दोनों शांत और स्थिर रहता है।

 

ऐसे अन्य स्टोरीज के लिए डाउनलोड करें: ओनलीमायहेल्थ ऐप

Read More Articles on Healthy Living In Hindi